By | April 13, 2021
IAS tina dabi biography in hindi

IAS tina dabi biography in hindi | IAS tina dabi biography Wikipedia in hindi | tina dabi date of birth | tina dabi | tina dabi family |

Q. What is tina dabi date of birth?

Ans . 9 November 1993

IAS tina dabi biography in hindi : नमस्कार आज हम इस आर्टिकल में मशहूर IAS Officer टीना डाबी से जुड़े कुछ किस्से और उनकी IAS tina Full Biography लेकर आये है , तो इस आर्टिकल को लास्ट तक जरूर पड़ियेगा और सोशल मीडिया पर शेयर करियेगा अपने दोस्तों को टैग करियेगा ताकि इनसे आपके साथ के बच्चे भी मोटीवेट हो सके।

Ias Tina Dabi

बचपन से ही टॉपर रहीं टीना डाबी भारत के एक मशहूर IAS (भारतीय प्रशासनिक सेवा) टॉपर हैं। इनका जन्म 9 नवंबर 1993 को भोपाल, मध्य प्रदेश, भारत में हुआ था, आईएएस परीक्षा की टॉपर होने की वजह से इनका नाम देश में हुआ था। इनका गृहनगर नई दिल्ली, भारत में है, इन्होने राजनीतिशास्त्र में स्नातक किया है। यूपीएससी टॉपर टीना डाबी हंसमुख हैं। चुलबुली हैं। धीर-गंभीर भी हैं। टीना बचपन से ही टॉपर रही हैं। पहले स्कूल फिर कॉलेज और अब यूपीएससी जैसी कठिन परीक्षा में भी उन्होंने झंडे गाड़ दिए।

टीना डाबी का परिवार – ( IAS tina dabi biography in hindi )

इनके पिता का नाम जसवंत डाबी है जो दूरसंचार विभाग में हैं, माता का नाम हिमानी डाबी है जो एक इंजीनियर हैं, रिया डाबी इनकी छोटी बहन हैं। अथर आमिर खान (भारतीय प्रशासनिक सेवा) इनके पति हैं। इनका विवाह 20 मार्च 2018 को कोर्ट विवाह के जरिये हुआ था,बाद में इन्होने 7 अप्रैल 2018 को फिर से धार्मिक विवाह अनुष्ठान से विवाह किया था, यह कपल भारत के एक मशहूर कपल के रूप में जाने जाते हैं, दोनों आईएएस अधिकारी हैं।

संछिप्त परिचय ( IAS tina dabi biography in hindi )
वास्तविक नाम – टीना डाबी
जन्म – 9 नवंबर 1993
जन्म अस्थान – भोपाल, मध्य प्रदेश, भारत
गृहनगर – नई दिल्ली, भारत
प्रोफेशन – IAS (भारतीय प्रशासनिक सेवा)
राशि – वृश्चिक
राष्ट्रीयता – भारतीय
जाति – कांबले (अनुसूचित जाति)

टीना डाबी की शिक्षा – (Education) ( IAS tina dabi biography in hindi )
टीना डाबी ने अपनी शुरुआती शिक्षा कॉन्वेंट ऑफ़ यीशु एंड मैरी, दिल्ली से की थीं, उसके बाद इन्होने लेडी श्री राम कॉलेज फॉर वूमेन, नई दिल्ली से राजनीतिशास्त्र में स्नातक किया, उसके बाद यह सिविल सेवा परीक्षा आईएएस के लिए तैयारी करने लगी, इन्होने आईएएस की परीक्षा बहुत ही कम उम्र में पास कर ली और यह टॉपर रहीं थीं।

इनके बारे में कहा जाता है की यह अपनी स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद बीकॉम करना चाहती थी, लेकिन बाद में टीना ने बीए (राजनीति विज्ञान) में प्रवेश ले लिया।

महज 22 उम्र की टीना ने पॉलिटिकल साइंस पर फोकस किया और जोरदार कामयाबी हासिल की। वह मां को अपना आदर्श मानती हैं और अपनी कामयाबी का पूरा श्रेय भी मां को ही देती हैं। टीना भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में जाना चाहती हैं और हरियाणा कैडर चाहती हैं।

क्या क्या रही चुनौतियां? ( IAS tina dabi biography in hindi )

मैं शुरू से ही टॉपर रही हूं। मुझे तैयारी में ज्यादा कठिनाई नहीं हुई। मुझे घंटों तक पढऩे की आदत पहले से ही है। मेरे लिए लगातार 8-9 घंटे तक पढऩा उतना कठिन नहीं रहा।

हां, जैसा सभी को होता है मुझे भी लगातार पढ़ते हुए कई बार बोरियत होने लगती थी। अपने दोस्तों से नहीं मिल पाती थी। मेरे घरवालों ने ऐसे समय मेरा ध्यान पढ़ाई से हटाकर और चीजों में लगाया। इसके लिए मैंने कोचिंग ली।

दोस्तों के साथ मिलकर भी मैंने तैयारी की थी। मुझे अपने ऊपर भरोसा था कि इस परीक्षा को मैं पास कर लूंगी, मगर टॉप करूंगी, यह नहीं पता था।

मेरा बचपन का सपना हुआ पूरा ( IAS tina dabi biography in hindi )

जब से मैंने होश संभाला, तभी से मैं यूपीएससी की परीक्षा देना चाहती थी। शायद यही वजह थी कि मैं उसी लाइन पर चलती रही। डीयू के लेडी श्रीराम कॉलेज में मैंने पॉलिटिकल साइंस ली और उसमें टॉप किया। इससे मेरा आत्मविश्वास और बढ़ा।

बचपन से ही मुझे पेपर पढऩे का शौक ( IAS tina dabi biography in hindi )

बचपन से मुझे पेपर पढऩे की आदत थी। जिससे मुझे काफी मदद मिली। मुझे पढऩे का शौक है। अपनी पढ़ाई के अलावा मैं कई दूसरे विषयों की किताबें भी पढ़ती रहती हूं।

IAS tina dabi biography in hindi

जैसे ही रिजल्ट आया और मां को मैंने बताया कि मैंने यूपीएससी टॉप किया है, मेरी मां रो पड़ी। उनके आंसू काफी देर तक नहीं रुके और रोते हुए मां ने मुझे गले से लगा लिया। मेरी मां टेलीकॉम सेक्टर में इंजीनियर थी और मेरी पढ़ाई की वजह से उन्होंने वॉलेंट्री रिटायरमेंट (वीआरएस) ले ली और मेरी पढ़ाई में मेरी मदद की।

डीयू में 100 में 100 मिले थे नंबर ( IAS tina dabi biography in hindi )

डीयू में पॉलिटिकल साइंस की टॉपर रहीं टीना ने 12वीं में भी पॉलिटिकल साइंस और इतिहास में 100 में से 100 नंबर मिले थे। भारतीय राजनीति में उनकी गहरी रुचि है। संसदीय प्रक्रिया और भारतीय संविधान की उनकी गहरी समझ है।

कॉलेज में टीना समय-समय पर आयोजित कार्यक्रमों में स्पीकर के तौर पर राजनीति से जुड़े अपने विचार रखती रही हैं। कॉलेज के प्रोफेसर भी कहते हैं, ‘वह हमारे कॉलेज का सच्चा खजाना और डायनेमिक स्पीकर हैं।’ स्पीकर के तौर पर टीना अपने विरोधियों को हमेशा चुनौती देती रही हैं।

माई डॉटर इज माई हीरो… ( IAS tina dabi biography in hindi )

टीना की मां हिमाली डाबी बताती हैं कि जब मुझे पता चला की मेरी बेटी ने टॉप किया है तो मेरी आखों में आंसू आ गए। माई डॉटर इज माई हीरो का बिल्ला मैंने खास इस दिन के लिए बनवाया था, जो मैंने अपने कुर्ते पर लगा रखा है। इससे आप मेरी खुशी का अंदाजा लगा सकते हैं। मैं और मेरे हसबैंड दोनों टेलीकॉम में थे।

IAS tina dabi biography in hindi

मैंने टीना की पढ़ाई के लिए वीआरएस ले लिया और काफी समय तक टीना की पढ़ाई पर फोकस कराया। फिलहाल मैं प्राइवेट सेक्टर में हूं। अपनी बेटी पर मुझे शुरू से ही भरोसा था।

टीना की तरह दूसरी बेटी भी करेगी यूपीएससी टॉप ( IAS tina dabi biography in hindi )

सिविल परीक्षा की टॉपर टीना डाबी के पिता जसवंत डाबी, जो कि खुद यूपीएससी पास कर चुके हैं अपनी बेटी के इस परिणाम को लेकर खुशी से फूले नहीं समा रहे। वह कहते हैं कि परीक्षा पास कर लेगी ये पता था, मगर टॉप करेगी इसका विश्वास नहीं हो रहा। टीना शुरू से ही टॉपर रही है उसने अपनी इस परम्परा को नहीं तोड़ा।

IAS tina dabi biography in hindi

उसके खुद ही पढऩे का शौक था हमने कभी उस पर दबाव नहीं डाला। उसको ब्रेक भी हमें बोलकर कराना पड़ता था। मेरी दो बेटियां हैं बड़ी टीना है और छोटी रिया मेरी दूसरी बेटी भी यूपीएससी की तैयारी कर रही है। और मुझे पता है वो भी टीना की तरह टॉप करेगी।

उसे पता था, वो आईएएस बनेगी ( IAS tina dabi biography in hindi )

tina dabi wikipedia in hindi

टीना की छोटी बहन रिया डाबी बताती हैं कि मेरी बहन अपनी पढ़ाई के साथ मेरी पढ़ाई में भी मेरी मदद करती है। उसका शुरू से ही आईएएस बनने का सपना था।

कॉलोनी के बच्चों की आइडल बनीं टॉपर दीदी ( IAS tina dabi biography in hindi )

कालीबाड़ी मार्ग स्थित बीएसएनएल सरकारी कॉलोनी के 33 नंबर ब्लॉक की दूसरी मंजिल पर रहने वाली टीना डाबी को वहां रहने वाले बच्चों में कुछ ही हैं, जो ठीक से जानते हैं।

हम दोनों सीपी-इंडिया गेट पर खूब करते हैं मस्ती

टीना की बेस्ट फ्रेंड हैं शिवानी। शिवानी लेडी हार्डिंग से एमबीबीएस लास्ट ईयर की पढ़ाई कर रही हैं। फ्रेंड ने यूपीएससी टॉप किया तो शिवानी की खुशी का ठिकाना नहीं है। वह कहती हैं सेंट मैरी स्कूल में वह कक्षा 9 से ही टीना के साथ पढ़ रही थी। कक्षा 11 में जब टीना ने ह्यूमिनिटीस में पढ़ाई शुरू की तो ही उसने यह तय कर लिया था कि उसे आईएएस ही बनना है।

शिवानी ने कहा कि यह तो उसे पता था कि टीना यूपीएससी की परीक्षा पास कर ही जाएगी, लेकिन टॉप कर जाएगी यह उन्होंने नहीं सोचा था। पुरानी यादों को ताजा करते हुए शिवानी ने कहा जितना पढऩे लिखने में टीना तेज है उतनी ही मस्ती करने में भी आगे हैं। हम लोग अक्सर सीपी और इंडिया गेट पर जाकर मस्ती करते हैं। कनॉट प्लेस के सेंट्रल पार्क में तो आए दिन हम लोग जाते हैं और खूब मस्ती करते हैं।

टीना डाबी से जुडी रोचक जानकारी – ( IAS tina dabi biography in hindi )
सबसे कम उम्र में आईएएस की परीक्षा में टॉप किया।
Union Public Service Commission (UPSC) Examination 2015 में इन्होने पहला रैंक पाया।
इनके पति भी आईएएस अधिकारी हैं।
इनके माता पिता भी साधन सम्पन घराने से हैं।
जब टीना 7वीं कक्षा में थीं, तभी इनके माता पिता इनको लेकर दिल्ली शिफ्ट हो गए थे।
जब टीना 18 साल की थीं, तभी इन्होने वर्ष 2011 में राव आईएएस अकादमी में प्रवेश ले लिया था।

अपने स्कूली दिनों में टीना एक अच्छी वक्ता भी रहीं थीं।
वर्ष 2012 में यह यूथ संसद की उपाध्यक्ष भी रह चुकीं हैं।
इनके पति आमिर दिल्ली में डीओपीटी कार्यालय में आईएएस प्रशंसा समारोह में इनसे पहली बार मिले थे।
बाद में दोनों लाल बहादुर शास्त्री नेशनल एकेडमी, मसूरी में आईएएस का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे थे, उसी समय एक दूसरे को प्यार करने लगे थे।
आईएएस की ट्रेनिंग पूरी होने के बाद टीना आमिर के साथ नीदरलैंड, पेरिस और रोम की यात्रा पर गईं थीं।
इनका सपना है की यह भारत सरकार में एक कैबिनेट सचिव बने।
इनको अपना पहला पसंदीदा हरियाणा कैडर मिला था।

इंजीनियरिंग के बाद यूपीएससी में आने का फैसला किया

आईआईटी से पढ़ाई के बाद एकता सिंह ने चुना यूपीएससी का रास्ता

ज़ेबा जहाँ से आती है, वहाँ करियर नाम का कोई शब्द डिक्शनरी में नहीं होता

IAS Success Story: 16 साल की उम्र में सुनने की शक्ति खोयी, मेन्स परीक्षा में आया 103 बुखार इसके बाद

भी पास की आईएएस

IAS preparation in hindi : आईएएस बनने के लिए ऐसे करें तैयारी, इन चीजों

का रखें ध्यान

Success Story Of IAS Kajal Jwala नौ घंटे की नौकरी के साथ बिना कोचिंग काजल ज्वाला ने पास किया

यूपीएससी एग्जाम और बन गईं मिसाल

सृष्टि ने यूपीएससी की तैयारी के लिए अपनाया ये तरीका, पहले ही प्रयास में बनीं IAS

IAS साक्षी गर्ग Biography हिंदी में, Biography of IAS Sakshi Garg in hindi, Best 350 Rank

Two World twokog.com के सोशल मीडिया चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ

क्लिक करिये –

फ़ेसबुक

ट्विटर

इंस्टाग्राम

Leave a Reply