By | April 20, 2021
IAS Topper Madhumita biography in hindi

IAS Topper Madhumita biography in hindi : UPSC में दो बार हुईं फेल, घर जाना भी छोड़ा और तीसरे प्रयास में मधुमिता बनीं आईएएस

Success Story Of IAS Topper Madhumita: आज आपको यूपीएससी परीक्षा पास कर आईएएस अफसर बनने वाली मधुमिता की कहानी बताएंगे, जिन्होंने यह सफलता तीसरे प्रयास में प्राप्त की. शुरू से ही उनका सपना आईएएस अफसर बनने का था, ऐसे में उन्होंने दूसरे विकल्पों के बारे में सोचा तक नहीं. दो बार असफलता मिलने के बाद तो उन्होंने घर जाना भी छोड़ दिया और तैयारी में जुटी रहीं. इसका नतीजा यह हुआ तो उन्होंने तीसरे प्रयास में ऑल इंडिया रैंक 86 प्राप्त कर ली. उनकी कहानी सभी के लिए काफी प्रेरणादायक है.

IAS Topper Madhumita biography in hindi

बीबीए और एमए के बाद शुरू की तैयारी

मूल रूप से हरियाणा के पानीपत की रहने वाली मधुमिता की शुरुआती पढ़ाई यहीं हुई. इंटरमीडिएट के बाद उन्होंने बीबीए की डिग्री हासिल की. फिर पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन में पोस्ट ग्रेजुएशन की. इसके बाद उन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी. उनके परिवार का सपना था कि वे आईएएस अफसर बनें, इसलिए उन्हें तैयारी के लिए पूरा सपोर्ट दिया. वह घर से दूर रहकर अपनी तैयारी करने लगीं.

ऐसा रहा यूपीएससी का सफर

साल 2017 में मधुमिता ने यूपीएससी की पहली बार परीक्षा दी जिसमें उन्हें असफलता मिली. इसके बाद उन्होंने दोबारा प्रयास किया, जिसमें कुछ गलतियों की वजह से सफलता से चूक गईं. दो बार लगातार असफलता मिलने के बाद उन्होंने अपनी रणनीति बदली और घर परिवार और सोशल मीडिया से पूरी तरह दूरी बना ली. यहां तक कि वे अपने भाई की शादी में भी शामिल नहीं हुईं. कड़ी मेहनत की बदौलत उन्होंने तीसरे प्रयास में ऑल इंडिया रैंक 86 प्राप्त कर आईएएस अफसर बनने का सपना पूरा कर लिया.

अन्य कैंडिडेट्स को मधुमिता की सलाह

मधुमिता का मानना है कि यूपीएससी की परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए आपको लगातार मेहनत करनी होगी. इसके अलावा आपको सोशल मीडिया और अन्य चीजों से दूर रहकर स्टडी पर फोकस करना चाहिए. सिलेबस कंप्लीट करने के बाद आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करें और ज्यादा से ज्यादा मॉक टेस्ट दें. इसके बाद अपनी गलतियों की पहचान कर उन्हें सुधारें. अगर आप इन चीजों का ध्यान रखेंगे, तो आप यूपीएससी में सफलता जरूर प्राप्त कर सकते हैं.

 IAS tina dabi biography Wikipedia in hindi 

आईआईटी से पढ़ाई के बाद एकता सिंह ने चुना यूपीएससी का रास्ता

ज़ेबा जहाँ से आती है, वहाँ करियर नाम का कोई शब्द डिक्शनरी में नहीं होता

IAS Success Story: 16 साल की उम्र में सुनने की शक्ति खोयी, मेन्स परीक्षा में आया 103 बुखार इसके बाद

भी पास की आईएएस

IAS preparation in hindi : आईएएस बनने के लिए ऐसे करें तैयारी, इन चीजों

का रखें ध्यान

Success Story Of IAS Kajal Jwala नौ घंटे की नौकरी के साथ बिना कोचिंग काजल ज्वाला ने पास किया

यूपीएससी एग्जाम और बन गईं मिसाल

सृष्टि ने यूपीएससी की तैयारी के लिए अपनाया ये तरीका, पहले ही प्रयास में बनीं IAS

IAS साक्षी गर्ग Biography हिंदी में, Biography of IAS Sakshi Garg in hindi, Best 350 Rank

Two World twokog.com के सोशल मीडिया चैनल से जुड़ने के लिए यहाँ

क्लिक करिये –

फ़ेसबुक

ट्विटर

इंस्टाग्राम

One Reply to “IAS Topper Madhumita biography in hindi : UPSC में दो बार हुईं फेल, घर जाना भी छोड़ा और तीसरे प्रयास में मधुमिता बनीं आईएएस”

  1. Pingback: IAS Sanjita Mohpatra Success Story : बार-बार असफल होने के बाद भी संजीता ने नहीं मानी हार, ऐसे बनीं UPSC टॉपर - TWO Hindi

Leave a Reply